जानिए उरी हमले की और सर्जिकल स्ट्राइक की पूरी कहानी, जब भारत ने पाक में घुसकर मारा था आतंकवादियों को

0
400
uri attack kashmir
uri attack kashmir

उरी हमले की कहानी (Uri Attack Story In Hindi)

साल 2016 में कश्मीर में कुछ आतंकवादियों ने उरी में बने आर्मी के बेस कैम्प पर अटैक किया था और इस हमले में हमारे देश ने अपने 19 जवान को खो दिया था. ये अटैक 18 सितंबर 2016 को किया गया था जो कि आर्मी पर हुए अब तक के हमलों में से सबसे बड़ा अटैक था. इस हमले को अंजाम देने के लिए जिन आतंकवादियों को भेजा गया था वो पाकिस्तान से आए थे.

सुबह के वक्त हुआ था ये हमला

  • आतंकवादियों ने उरी में आर्मी के बेस कैंप पर किए गए इस अटैक को अंजाम देने के लिए सुबह 5 बजे का वक्त चुना था. कहा जाता है कि करीब चार आतंकवादियों ने करीब 5 बजकर 30 मिनट पर उरी में भारतीय सेना ब्रिगेड मुख्यालय पर अटैक कर दिया था और इस हमले के दौरान इन्होंने तीन मिनट के अंदर ही करीब 17 ग्रेनेड इस बेस कैंप पर फेंक थे.जिसके कारण इस कैंप में मौजूद एक टेंट में फायर लग गई थी. जिसमें भारतीय सेना के जवान मौजूद थे.
  • इस हमले में मारे के जवानों में से अधिकतर जवान 10 वीं बटालियन, डोगरा रेजिमेंट (10 डोगरा) और 6 वें बटालियन, बिहार रेजिमेंट (6 बिहार) के थे. दरअसल जिस वक्त ये हमला हुआ था उस वक्त 10 डोगरा रेजिमेंट के सैनिकों की शिफ्ट खत्म हुई थी और उनकी जगह बिहार रेजिमेंट के सैनिक ले रहे थे.
  • इस हमले के बाद आतंकवादियों और सेना के बीच करीब 6 घंटे की लड़ाई चली थी और इस लड़ाई में भारतीय सेना ने इन सभी आतंकवादियों को मार दिया था.

जैश-ए-मोहम्मद ने किया था ये हमला

भारत के मुताबिक इस हमले को अंजाम देने की पूरी प्लानिंग जैश-ए-मोहम्मद द्वारा की गई थी, जो कि एक आंतकी संगठन हैं. उरी अटैक के अलावा जैश-ए-मोहम्मद ने साल 2015 में गुरदासपुर में हुए अटैक और पठानकोट एयरफोर्स स्टेशन पर हुए अटैक को भी अंजाम दिया था और इस संगठन के द्वारा ही ये अटैक किया गया था.

भारत ने लिया अपना बदला (Surgical Strike 2016 In Hindi)

इस हमले ने भारत सरकार को कड़ा कदम लेने पर मजबूर किया और भारत सरकार ने अपने जवानों की मौत का बदला लेने का फैसला कर लिया था. जिसके बाद दिल्ली में हुई एक बैठक के दौरान भारत सरकार ने पाकिस्तान द्वारा कब्जा किए गए हिस्से में जाकर वहां पर मौजूद आतंकवादियों और उनके कैंप को नष्ट करने का प्लान बनाया था. सर्जिकल स्ट्राइक का ये प्लान एकदम गोपनीय रखा गया था और किसी को भी इसकी जानकारी नहीं थी. इस अटैक को कामयाब बनाने के लिए भारतीय सेना के कुछ जवानों को चुना गया था और चुने गए इन जवानों ने बेहद ही बहादुर से इस सर्जिकल स्ट्राइक को कामयाब भी बनाया था.

क्या होती है सर्जिकल स्ट्राइक (What Is Surgical Strike)

सर्जिकल स्ट्राइक के तहत सेना द्वारा अपने दुश्मनों पर हमला किया जाता है और सेना की इस कार्यवाही को अंजाम देने के लिए केवल बेहतरीन सैनिकों को चुना जाता है. सर्जिकल स्ट्राइक को जिस जगह किया जाना होता है उस जगह की पहले पूरी जानकारी हासिल की जाती है और फिर उस जगह के हिसाब से हमला करने का प्लान तैयार किया जाता है. अधिकतर केसों में ये स्ट्राइक आतंकवादियों के ठीकानों पर की जाती है.

भारत ने किस तरह से सर्जिकल स्ट्राइक को दिया अंजाम

  • उरी अटैक के करीब 10 दिन के बाद ही इस सर्जिकल स्ट्राइक को किया था और इस सर्जिकल स्ट्राइक को करके भारतीय सैनिकों ने पाकिस्तान के अधिकृत वाले कश्मीर में बने आतंकवादियों के कैंप को तबाह कर दिया था और इस सर्जिकल स्ट्राइक में लगभग 38 आतंकवादी मारे गए थे.
  • ये सर्जिकल स्ट्राइक करीब 4 घंटे तक चली थी और इस सर्जिकल स्ट्राइक के दौरान किसी भी भारतीय सैनिकों को किसी भी तरह की हानि नहीं पहुंची थी. कहा जाता है कि भारतीय सैनिकों ने LOC के तीन किलोमीटर अंदर जाकर इस सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया था.
  • सुबह करीब 12 बजकर 30 मिनट पर इस सर्जिकल स्ट्राइक को शुरू किया गया था और इस हमले को अंजाम देने वाले कमांडो को एलओसी तक तीन हेलिकॉप्टरों की मदद से पहुंचाया गया था जिसके बाद ये कमाडों एलओसी के तीन किलोमीटर तक अंदर चले गए थे.
  • आतंकवादियों के बेस कैंप पर पहुंचने के बाद इन आतंकवादियों ने वहां पर मौजूद करीब 7 लॉन्च पैड को नष्ट किया था. इस अटैक में करीब  38 आतंकवादी और 2 पाकिस्तानी सैनिक मारे गए थे.

भारत सरकार ने दी थी जानकारी

ये सर्जिकल स्ट्राइक काफी कामयाब रही थी. वहीं इस सर्जिकल स्ट्राइक के बाद भारत सरकार ने इसकी जानकारी देश की जनता को दी थी और बताया था कि किस तरह से भारत सरकार ने उरी में जवानों पर हुए हमले का बदला ले लिया है. साथ में ही भारत सरकार ने पाकिस्तान को फोन करके भी सर्जिकल स्ट्राइक की जानकारी दी थी. हालांकि पाकिस्तान ने सर्जिकल स्ट्राइक होने की बात से इंकार कर दिया था लेकिन बाद में भारतीय सरकार द्वारा सर्जिकल स्ट्राइक से जुड़े एक वीडियो जारी की गई थी जिसमें दिखाया गया था कि किस तरह से पाकिस्तान में घुसकर भारतीय सैनिकों को आतंकवादियों को मारा था.

पाकिस्तान पर उठे कई सवाल

उरी में हुए हमले को लेकर पाकिस्तान पर कई सारे सवाल खड़े किए जाने लगे थे क्योंकि जो आतंकवादी कश्मीर में घुसे थे वो पाकिस्तान के कब्जे वाले भाग से कश्मीर में आए थे. वहीं इस हमले के बाद भारत और पाक की दुश्मनी और बढ़ गई थी और भारत ने पाक में होने वाले SAARC सम्मेलन में जाने से मना कर दिया था. भारत के साथ साथ अन्य SAARC देशों ने भी इस सम्मेलन का भाग बनने से इंकार कर दिया था.

सर्जिकल स्ट्राइक पर आधारित है उरी फिल्म (Uri Film Official Trailer Launch)

इस सर्जिकल स्ट्राइक को करीब दो साल हो गए हैं और अब इस सर्जिकल स्ट्राइक पर एक मूवी भी आ रही है जो कि जनवरी के महीने में रिलीज होगी. जिसका नाम ‘उरी’ है. इस फिल्म को उरी हमले और भारत द्वारा किस तरह से सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया गया था इस विषय पर बनाया गया है. इस फिल्म में विक्की कौशल अहम रोल कर रहे हैं जो कि भारतीय सैनिक बने हुए हैं. जबकि इस फिल्म को आदित्य धर द्वारा लिखा और डायरेक्टर किया गया है.

फिल्म से जुड़ी जानकारी – (Uri Film Trailer And Releasing Date)

फिल्म का नाम उरी
किस विषय पर है उरी अटैक और सर्जिकल स्ट्राइक
अभिनेताओं का नाम विक्की कौशल, परेश रावल, यामी गौतम
किसके द्वारा डायरेक्ट की गई है आदित्य धर
कब होगी रिलीज 11 जनवरी, 2018

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here